कैसे करें असली और नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन की पहचान, खरीदने से पहले इस तरह करें पहचान

Health & Fitness

कैसे पहचानें असली और नकली रेमडेसिविर

रेमडेसिविर के पैकेट पर कुछ गलतियों को पढ़कर असली और नकली का फर्क किया जा सकता है। 100 मिलीग्राम के इंजेक्शन सिर्फ पाउडर के तौर पर शीशी में रहता है। इंजेक्शन की सभी शीशी पर Rxremdesivir लिखा रहता है। हर बॉक्स के पीछे एक बार कोड़ भी बना होता है। दिल्ली पुलिस की डीसीपी मोनिका भारद्वाज ने ट्वीट कर असली और नकली रेमडेसिविर की जानकारी दी है। डीसीपी मोनिका भारद्वाज ने बताया है कि रेमडेसिविर के असली पैकेट पर अंग्रेजी में For use in लिखा है जबकि नकली रेमडेसिविर पर for use in लिखा है। इसका मतलब नकली वाले में कैपिटल लेटर से शुरुआत नहीं हो रही है।

जानें कोवैक्सीन और कोविशील्ड वैक्सीन में क्या अंतर हैजानें कोवैक्सीन और कोविशील्ड वैक्सीन में क्या अंतर है

चेतावनी से करें असली नकली की पहचान

चेतावनी से करें असली नकली की पहचान

रेमडेसिविर की पहचान के लिए आप बॉक्स के पीछे की चेतावनी को जरुर देखें। असली पैकेट के पीछे चेतावनी रेड ( लाल) कलर से है वहीं नकली पैकेट पर ब्लैक( काला) कलर से चेतावनी दी है। नकली रेमडेसिविर में इंग्लिश में काफी गलतियां देखने को मिल रही है, जिसे ध्यान से पढ़ कर असली और नकली की पहचान कर सकते हैं।

क्या कोरोना पॉजिटिव लगवा सकते है वैक्सीन? जानें विशेषज्ञ की रायक्या कोरोना पॉजिटिव लगवा सकते है वैक्सीन? जानें विशेषज्ञ की राय

शीशी से करें असली नकली की पहचान

शीशी से करें असली नकली की पहचान

इस संकट के समय में कुछ लोग मुनाफाखोरी करने से बाज नहीं आ रहे हैं। महंगे दाम पर नकली रेमडेसिविर बेच रहे हैं। असली रेमडेसिविर की कांच की शीशी काफी हल्की होती है। ऐसे में जरुरी है कि आप इस इंजेक्शन को सही जगह से खरीदे।

कोरोना वायरस: जानें क्‍यों घर के अंदर मास्क पहनना है जरुरीकोरोना वायरस: जानें क्‍यों घर के अंदर मास्क पहनना है जरुरी

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *