Jaya Bachchan जहां भी गईं वहीं गाड़े अपने झंडे, पति Amitabh Bachchan के लिए लिख डाली थी फिल्म

मनोरंजन

नई दिल्ली: बॉलीवुड की दिग्गज अदाकारा जया बच्चन (Jaya Bachchan) 9 अप्रैल को 73 साल की हो जाएंगी. जया बच्चन ने जहां भी कदम रखे वहां सफलता हासिल की.  फिर चाहे वो एक्टिंग की दुनिया में नाम कमाने को लेकर हो या शहंशाह की स्क्रिप्ट लिखने को लेकर हो. जया ने अपने हर रोल को बखूबी निभाया  है. 

फिल्मी करियर की शुरुआत

जया बच्चन (Jaya Bachchan Unknown Facts) ने महज 15 साल की उम्र में अभिनय करियर की शुरुआत की थी. जया ने साल 1963 में सत्यजीत रे की बंगाली फिल्म ‘महानगर’ में सपोर्टिंग एक्ट्रेस का किरदार निभाया था. यहीं से एक्ट्रेस ने अपने सपने को जीना शुरू किया.

बुरे वक्त में दिया अमिताभ का साथ

एक्ट्रेस (Jaya Bachchan Debut Film) ने फिल्म गुड्डी से साल 1971 में बॉलीवुड में डेब्यू किया था. इसके बाद एक्ट्रेस ने मिली, चुपके-चुपके, जंजीर जैसी कई सुपरहिट फिल्में दी. जया बच्चन कम ही समय में बॉलीवुड की एक हिट एक्ट्रेस बन गई थीं.  लेकिन उस समय अमिताभ बच्चन अपनी फिल्मों को हिट करवाने की भरपूर कोशिश कर रहे थे. 12 फ्लॉप फिल्में देने के बाद अमिताभ बॉलीवुड छोड़ना चाहते थे. वे मुंबई से वापस जा रहे थे. लेकिन तब उन्हें फिल्म जंजीर में साइन किया गया और उनके अपोजिट  जया बच्चन को लिया गया. ये वो समय था जब अमिताभ के साथ कोई भी हीरोइन काम नहीं करना चाहती थी. क्योंकि उनकी फिल्में लगातार पिट रही थीं.

जल्दी में करनी पड़ी शादी

1973 में अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) और जया (Jaya Bachchan) साथ-साथ ‘जंजीर’ फिल्म में नजर आए. ये फिल्म सुपरहिट साबित हुई. जया और अमिताभ एक-दूसरे के करीब आने लगे. फिल्म की कामयाबी का जश्न मनाने के लिए दोनों विदेश जाना चाहते थे. अमिताभ (Amitabh Bachchan) के पिता हरिवंशराय बच्चन ने साफ कह दिया कि यदि वह जया (Jaya Bachchan) के साथ छुट्टियां बिताना चाहते हैं तो उन्हें पहले उनसे शादी करनी होगी. एक बेहद सादे समारोह में 3 जून, 1973 को अमिताभ (Amitabh Bachchan) और जया (Jaya Bachchan) की शादी हो गई. 

खुद लिखी थी शहंशाह

जया (Jaya Bachchan lesser-known facts) एक बेहतरीन एक्ट्रेस तो हैं ही लेकिन यह बहुत कम लोग जानते हैं कि जया बच्चन एक अच्छी स्क्रिप्ट राइटर भी हैं. साल 1988 में रिलीज हुई अमिताभ बच्चन की फिल्म ‘शहंशाह’ की कहानी जया ने ही लिखी थी और यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट रही थी. जया ने अमिताभ की ब्लॉकबस्टर फिल्म शंहशाह की स्टोरी लिखी थी. फिल्म में उनके साथ मीनाक्षी शिशाद्री थीं. 

मिल चुका है पद्मश्री

जया बच्चन (Jaya Bachchan) को उनके बेहतरीन अभिनय के लिए 3 बार बेस्ट एक्टर का फिल्मफेयर मिल चुका है और उन्हें 3 बार बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर के फिल्मफेयर से भी नवाजा गया है. साल 1992 में जया बच्चन (Jaya Bachchan) को पद्मश्री अवॉर्ड द्वारा सम्मानित किया गया था. फिल्मों से दूर होने के बाद 2004 में जया बच्चन ने समाजवादी पार्टी ज्वाइन किया. वर्तमान में जया समाजवादी पार्टी से राज्यसभा में संसद सदस्य हैं. 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *