Richa Chadha के मानहानि मुकदमे पर सुनवाई टली, Bombay High Court ने कही यह बात

मनोरंजन

नई दिल्ली: पायल घोष (Payal Ghosh) ने फिल्मकार अनुराग कश्यप पर यौन शोषण का आरोप लगाते समय ऋचा चड्ढा (Richa Chadha) सहित दूसरी अभिनेत्रियों का जिक्र किया था. ऋचा चड्ढा इससे काफी नाराज हो गई थीं. उन्होंने पायल घोष सहित संबंधित सभी व्यक्तियों को कानूनी नोटिस भेजा था. हाल में ऋचा ने बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) में पायल घोष और अन्य लोगों के खिलाफ 1.10 करोड़ का मानहानि का मुकदमा दायर कराया है. फिलहाल, बॉम्बे हाईकोर्ट ने मानहानि के मुकदमे को 7 अक्टूबर तक के लिए टाल दिया है. अदालत को कार्यवाही इसलिए टालनी पड़ी, क्योंकि दूसरे पक्ष के लोगों को इस संबंध में नोटिस नहीं थमाए गए थे.

कई लोगों के खिलाफ दायर किया मुकदमा
ऋचा चड्ढा ने मानहानि का यह मुकदमा पायल घोष, आमोदा ब्रॉडकास्टिंग कंपनी प्राइवेट लिमिटेड, कमाल आर खान  और जॉन डो / अशोक कुमार के खिलाफ दर्ज कराया है. उन्होंने यह मुकदमा अनुराग कश्यप के खिलाफ लगाए गए यौन शोषण के आरोपों में उनका नाम बेवजह लिए जाने के खिलाफ दायर किया है. उनका आरोप है कि पायल ने बलात्कार के आरोपों में उनका नाम बेवजह घसीट कर उन्हें बदनाम करने की कोशिश की है.

1.10 करोड़ रुपये के हर्जाने की मांग की
ऋचा चड्ढा का आरोप है कि पायल घोष के बयानों की वजह से उनकी प्रतिष्ठा कम हुई है. इससे उनका बहुत अपमान हो रहा है, उनका मजाक बन रहा है. लोग बेवजह के कयास लगा रहे हैं. उनका उत्पीड़न हो रहा है, उन्हें कार्यक्षेत्र में नुकसान झेलना पड़ा है. इससे उन्हें जबरदस्त तनाव और मानसिक पीड़ा हुई है. इसलिए, वह दूसरे पक्ष से 1.10 करोड़ रुपये के हर्जाने की मांग करती हैं.

ये भी पढ़ेंः ये हैं इस साल सबसे ज्यादा कमाई करने वाली एक्ट्रेस, जानें लिस्ट में है कौन-कौन?

कानून का गलत इस्तेमाल कर रहीं पायल
इस बीच, कश्यप ने पायल घोष द्वारा उन पर लगाए गए सभी आरोपों को निराधार बताया है और कानून का गलत इस्तेमाल करने के जुर्म में अभिनेत्री के खिलाफ कड़ी कार्यवाई करने की मांग की है. 
बता दें कि पायल घोष ने पिछले महीने अनुराग कश्यप के खिलाफ यौन शोषण का आरोप लगाया था और एफआईआर दर्ज कराई थी. बाद में अनुराग से इस सिलसिले में वर्सोवा पुलिस स्टेशन पर पूछताछ भी हुई.

एंटरटेनमेंट की और खबरें पढ़ें

 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *